Home » Breaking News » श्रोताओं को मिलेगी ‘तेरी खुशबू’ की महक-राजन शाह

श्रोताओं को मिलेगी ‘तेरी खुशबू’ की महक-राजन शाह

मुंबई : इंडिया ही नहीं , यूएस भी कोरोना महामारी से जूझ रहा है। लाखों युवा नौकरी से हाथ धो बैठे हैं। कारोबार ठप हो गए हैं लेकिन कला पर कुदरत का कहर नहीं बरपा है। कलाकारों ने इसी बीमारी के दौरान अपनी कला को तराशते हुए अंजाम तक पहुंचाया है। ऐसे ही एक कलाकार है राजन शाह जिन्होंने यूएस में रहते हुए बॉलीवुड की धाक जमा दी है। यूट्यूब पर इनके दर्जनों म्यूजिक सिंगल्स की दीवानगी सर चढ़कर बोल रही है। राजन कहते हैं कि प्रशंसकों ने मुझे हताश नहीं होने दिया। वे सब जिस तनाव से गुजर रहे थे , ऐसे बुरे हालात में उन्हें सुकून चाहिए था जो उन्होंने मेरे संगीत में खोजा। मेरा संगीत उनके लिए एक म्यूजिक थेरेपी के रूप में सामने आया। मैंने कोरोना काल में 5 म्यूजिक सिंगल्स तैयार किए जो मेरे चाहने वालों के लिए रामबाण औषधि साबित हुए। अभी पिछले सप्ताह मेरा म्यूजिक सिंगल ‘स्लेव’ लॉन्च हुआ है और अब बारी है ‘तेरी खुशबू ‘ की, जो नवंबर के अंतिम सप्ताह में लॉन्च होगा।
गायक, गीतकार व संगीतकार के तौर पर राजन शाह ने संगीत को ही अपनी रुह में उतार लिया है। संगीत ही उनका गुरु है और संगीत में ही उन्हें भगवान नजर आते हैं। संगीत के प्रति उनका जुनून उन्हें आज इस मोड़ पर ले आया है जहां सीमाओं का कोई बंधन नहीं है। वाशिंगटन डीसी के नजदीक उनकी अपनी एक रचनात्मक दुनिया है जहां उनकी कला परवान चढ़ती है। यूएस में ही रहकर राजन ने दर्जनों गीत बना डाले जो आज यूट्यूब पर हिट हैं। राज संगीत प्रोडक्शन के तहत इन्होंने अब तक बैंजो, चांद का आईना, चारपाई, सलाम ए मोहब्बत, फिरोजी साड़ी, जब से तुम से रूबरू, आई लव यू लोंग टाइम, सही ना जाए, खोखली, छीटें, शोर मचावे रे, छुपी है तू कहां जैसे दर्जनों गीत न सिर्फ लिखे बल्कि खुद ही गाते हुए संगीत से भी सजाया।
राजन कहते हैं कि पत्नी संगीता ने ही मुझे गीत लिखने के लिए प्रेरित किया। मेरा लिखा एक गीत उनके दिलों को छू गया और वह मुझसे बोली कि तुम्हारी भावनाएं जब शब्दों के रूप में बाहर आती हैं तो संगीत की धारा के समान लगती हैं।
पत्नी से मिली तारीफ ने मुझे गीतकार बना दिया और फिर धीरे-धीरे उन गीतों को अपनी आवाज दी क्योंकि बचपन से ही मैं संगीत से जुड़ा था इसलिए संगीत तैयार करने में कोई परेशानी नहीं हुई। 12 साल की उम्र में ही हारमोनियम बजाने लगा था और आज संगीत से जुड़े दर्जनों साज बजा रहा हूं। राजन शाह म्यूजिक डॉट कॉम पर आप मेरे संगीत का आनंद ले सकते हैं।
जल्द ही राजन शाह का एक नया गीत ‘तेरी खुशबू’ यूट्यूब पर ही अपनी महक फैलाएगा। ‘तेरी खुशबू’ राजन शाह के ही एक पुराने गीत का रीमेक है। पुराने गीत का ही रीमेक क्यों? इस सवाल पर राजन कहते हैं कि पुराना गीत 2005 में बनाया था। 2020 में मुझे एहसास हुआ कि इस गीत में सुधार की जरूरत है। पुराने गीत में स्पीड थी लेकिन अब रीमेक में उसे हल्का किया गया है जिसका असर आपको नजर आएगा। राजन कहते हैं कि यूएस में संगीत को बहुत ज्यादा महत्व दिया जाता है। बचपन से ही 8 से 10 साल के बच्चों को संगीत सिखाना शुरू कर दिया जाता है। संगीत के जरिए ही बच्चे सीखते हुए आगे बढ़ते हैं। ग्रुप में संगीत सीखते, बजाते हुए उनमें टीम वर्क की भावना पैदा होती है। संगीत को सेहत से जोड़ते हुए राजन कहते हैं कि संगीत मस्तिष्क की सक्रियता बढ़ाने के साथ-साथ उम्र संबंधी बीमारियों को दूर रखने में मदद करता है। कहने का मतलब यह है कि संगीत से मस्तिष्क की दक्षता बढ़ती है। राजन कहते हैं कि 2006 में उन्होंने पियानो सिखाने के लिए पुस्तक लिखी थी जिसे उनकी साइट से फ्री डाउनलोड किया जा सकता है। संगीत तो ऐसा ज्ञान है जो कीमत लेकर नहीं बांटा जा सकता है।

-अनिल बेदाग़-

About digitalnews

Welcome to the Digital News Live is Complete Web News Channel. Here you will get the latest news, political upheavals, Mathapathi on special issues, Bhojpuri news, theater related news and much more. Stay tuned for exclusive videos and news in Hindi with #digitalnewslive.com.

Check Also

सोनम वर्मा और आकश मिश्रा का छठ गीत ” करी ले छठ के बरतिया ” यूट्यूब पर हुआ वायरल

लोक आस्था का महापर्व छठ के शुभ अवसर पर यूट्यूब पर भोजपुरी छठ गीतों की …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *